Follow by Email

Thursday, 30 April 2020

झूठ



झूठ भी एहसास हुआ करते हैं
सच से ज्यादा ताकतवर हुआ क‌रते है
कभी यही झूठ बहला देते है मन को
अंधेरे में जो इक दीया सा दिखा देते हैं
सच तो केवल कड़वाहट देता है
जीते जी नहीं केवल मरने के बाद साथ देता है
झूठ के दम पर माना दुनिया नहीं टिकती
फिर भी ये झूठ एहसास हुआ करते हैं
मन को मन से बांधने के लिए
साथ दिया करते हैं।
                           राजेश्री गुप्ता

1 comment: